Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

मकर संक्रांति 2022 : मकर संक्रांति आज, जाने सूर्य देव की पूजा की पूरी विधि

  रायपुर।  मकर संक्रांति का पर्व सूर्य देव को समर्पित है। इस दिन ग्रहों के राजा की पूजा, जीवन में सुख-समृद्धि लाती है। इस दिन सूर्य देव मकर ...

 

रायपुर। मकर संक्रांति का पर्व सूर्य देव को समर्पित है। इस दिन ग्रहों के राजा की पूजा, जीवन में सुख-समृद्धि लाती है। इस दिन सूर्य देव मकर राशि में प्रवेश करेगे। मकर संक्रांति के दिन से ही मौसम में बदलाव आरंभ हो जाता है। माना जाता है कि मकर संक्रांति से दिन बड़े और रातें छोटी होने लगती है। सर्दी कम होने लगती है। शास्त्रों में सूर्य देव को संसार का मित्र बताया गया है। पौराणिक कथाओं के अनुसार भगवान महादेव के तीन नेत्रों में से एक नेत्र को सूर्य की उपमा दी गई है। इस संसार में सूर्य देव ही है जो प्रत्यक्ष हमें दिखाई देते हैं।

सूर्यनारायण को अर्घ्य जलाशय, नदी इत्यादि के आस-पास देना चाहिए। यदि जलाशय या नदी तक रोज नहीं पहुंच सकते तो साफ-सुथरी भूमि में खड़े होकर सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए। घर की छत या बालकनी जहां से सूर्य दिखाई दें, वहां खड़े होकर सूर्य पूजन कर सकते हैं। तांबे या कांसे का लोटा प्रयोग कर अर्घ्य देने का प्रावधान है। गंगाजल, लाल चंदन, पुष्प इत्यादि जल में डालना चाहिए। इससे जल की महत्ता और अधिक बढ़ जाती है। सूर्य को तीन बार अर्घ्य देना चाहिए और प्रत्येक बार अर्घ्य देते समय प्रत्येक बार परिक्रमा करनी चाहिए। ऐसा करने से ईश्वर की हमेशा आप पर कृपा बनी रहती है और उनके आशीर्वाद से सभी कार्य पूरे होते हैं।

No comments

राजनीति

//