Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

CM पर FIR करने भाजपा ने दिया आवेदन

जगदलपुर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय के लिए दिए गए गोबर वाले बयान पर अब बस्तर में भी स...

जगदलपुर

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय के लिए दिए गए गोबर वाले बयान पर अब बस्तर में भी सियासत गरमा रही है। संभाग के जगदलपुर, कांकेर और दंतेवाड़ा में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन करते हुए सभी जिला मुख्यालय में रैली निकाली। वहीं अजजा थाने में CM के खिलाफ FIR करवाने आवेदन दिया है। भाजपाइयों ने कहा कि भूपेश बघेल को टिप्पणी करने से पहले अपने पद की गरिमा का ख्याल रखना चाहिए। भाजपा ने ठीक एक दिन पहले CM का पुतला भी फूंका था।


संभागीय मुख्यालय जगदलपुर में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया है। पूर्व सांसद दिनेश कश्यप ने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय पूर्व में केंद्रीय मंत्री के पद पर रह चुके हैं। वे लोकप्रिय आदिवासी जन नेता हैं। साथ ही कंवर जनजाति समाज से आते हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा उनके लिए की गई अशोभनीय टिप्पणी से समूचा आदिवासी समाज आहत है। हम उनके बयान का पुरजोर विरोध करते हैं।

दंतेवाड़ा में रैली निकाल थाना पहुंचे कार्यकर्ता

दंतेवाड़ा जिला मुख्यालय में भाजपा जिला अध्यक्ष चैतराम अटामी, अजजा मोर्चा के प्रदेश महामंत्री नंदलाल मुड़ामी समेत दर्जनों कार्यकर्ता दुर्गा मंच में इकठ्ठा हुए। यहां से उन्होंने नारेबाजी के साथ रैली निकाली, फिर थाना पहुंचे। इस दौरान नंदलाल ने कहा कि CM ने राष्ट्रीय पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ अमर्यादित बयान दिया है, जो उन्हें शोभा नहीं देता है। उन्हें अपनी मर्यादा का ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि वे कांग्रेस के नेता होने के साथ एक मुख्यमंत्री भी हैं।

CM ने दिया था यह बयान

दरअसल, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने सरकार की गोधन न्याय योजना पर निशाना साधते हुए गोबर घोटाला का आरोप लगाया था। विष्णुदेव साय के इस आरोप पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कह दिया कि उनके दिमाग में गोबर भरा हुआ है। CM के इस बयान के बाद प्रदेश भर में भाजपा भड़की हुई है। इधर प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने इसे बदजुबानी बताते हुए मुख्यमंत्री को संयमित रहने की सलाह दी थी।

No comments

राजनीति

//