Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

छात्राओं से अश्लील हरकत करने वाला टीचर गिरफ्तार

कोरबा- कोरबा के एक सरकारी स्कूल में छात्राओं ने टीचर महेंद्र कश्यप पर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया। छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित एक सरकारी स्कूल में...


कोरबा-
कोरबा के एक सरकारी स्कूल में छात्राओं ने टीचर महेंद्र कश्यप पर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया।

छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित एक सरकारी स्कूल में मास्टर जी पढ़ाने आते तो लड़कियों से छेड़छाड़ करने लगते। उन पर अश्लील कमेंट करते। गलत तरीके से देखते थे। इसकी जानकारी छात्राओं के परिजनों को लगी तो उन्होंने शुक्रवार को स्कूल पहुंच कर हंगामा कर दिया। टीचर को भी पीटा। खास बात यह है कि आरोपी टीचर खुद इसी स्कूल से पढ़ा है। बात बढ़ी तो मामला पुलिस तक पहुंच गया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी टीचर को गिरफ्तार कर लिया है।

हरदी बाजार स्थित शासकीय उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय में आरोपी टीचर महेंद्र कश्यप पदस्थ है। महेंद्र NSS में बच्चों को सामाजिक कार्य करना भी सिखाता है। छात्राओं का आरोप है कि महेंद्र कश्यप उन पर बुरी नजर रखता है। गलत ढंग से छूने की कोशिश करता है और छेड़छाड़ भी करता है। छात्राएं परेशान हो गईं तो उन्होंने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी। इसके बाद परिजन स्कूल पहुंचे और हंगामा किया।

छात्राएं बोलीं- नीयत शुरू से बुरी थी, पर अब हद हो गई

परिजनों ने स्कूल प्रबंधन से शिकायत की। टीचर को स्कूल से हटाने को कहा, लेकिन कार्रवाई नहीं होती देख वे पुलिस के पास पहुंच गए। इसके बाद छेड़छाड़ और पॉक्सो एक्ट में आरोपी टीचर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं छात्राओं का आरोप है कि शिक्षक महेंद्र कश्यप की नीयत शुरू से ही उन पर बुरी थी। लोक-लाज के भय से वे कुछ नहीं बोलती थी, लेकिन जब हद हो गई तो मजबूर होकर उन्हें परिजनों से शिकायत करनी पड़ी।

आरोपी टीचर बोला- आरोप लगा रहे हैं तो ट्रांसफर कर दीजिए

इस संबंध में जब आरोपी टीचर से बात की गई तो उसने सारे आरोप झूठे बताए। कहा कि वे इतने सालों से पढ़ा रहा है। स्कूल के छात्र-छात्राओं को अपने बच्चों की तरह मानता है। सुबह से शाम तक का समय देता है। हमेशा हर बच्चे का खुद को गार्जियन समझता रहा। अब बच्चों ने ऐसा क्यों किया, यह समझ से परे है। टीचर ने कहा कि आरोप लगाया तो ट्रांसफर कर दीजिए।

DEO को दी गई जानकारी, होगी विभागीय कार्रवाई

स्कूल के प्राचार्य डीएन दिवाकर ने कहा कि शाला समिति की बैठक कर शिक्षक के खिलाफ जरूरी कार्रवाई की जाएगी। इस मामले से जिला शिक्षा अधिकारी को भी अवगत करा दिया गया है। उन्होंने बताया कि शिक्षक महेंद्र कश्यप साल 2007 से स्कूल में अपनी सेवाएं दे रहा है। इतने लंबे अंतराल तक स्कूल में पदस्थ रहने के बाद जिस तरह से छात्राओं ने उन पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है, यह एक गंभीर मसला है।

No comments

राजनीति

//