Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

सरकार ने प्रवासियों की बैठक से ब्रिटिश गृहमंत्री प्रीति पटेल को हटाया

  पेरिस इंग्लिश चैनल पार करते वक्त नौका डूबने से कई प्रवासियों की मौत के बाद फ्रांस और ब्रिटेन के बीच तनाव बढ़ गया है। फ्रांसीसी सरकार ने ब्...

 पेरिस

इंग्लिश चैनल पार करते वक्त नौका डूबने से कई प्रवासियों की मौत के बाद फ्रांस और ब्रिटेन के बीच तनाव बढ़ गया है। फ्रांसीसी सरकार ने ब्रिटेन की गृहमंत्री प्रीति पटेल को चैनल प्रवासन संकट पर आयोजित बैठक में नहीं बुलाया। फ्रांस ने यह कदम ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन द्वारा इस संकट से पेरिस के सही ढंग से नहीं निपटने को लेकर की गई आलोचना के बाद उठाया है।


इंग्लिश चैनल पार कर ब्रिटेन जा रहे प्रवासियों की नौका पलटने के बाद दो देशों में बढ़ा तनाव

फ्रांस के गृहमंत्री गेराल्ड डारमैनिन ने प्रीति पटेल के साथ रविवार को होने वाली यह बैठक रद्द कर दी है। इससे पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को लिखे एक पत्र में मौजूदा हालात के लिए फ्रांस की कोशिशों पर नाराजगी जताई थी। डॉरमैनिन के एक करीबी सूत्र ने इस पत्र को अस्वीकार्य और भागीदारों के बीच वार्ता की भावना के विपरीत बताया।

हालांकि ब्रिटिश परिवहन मंत्री ग्रांट शाप्स ने कहा कि हालात से कोई भी देश अकेला नहीं निपट सकता। उन्होंने फ्रांस से उसके फैसले पर पुनर्विचार करने का भी अनुरोध किया। बता दें कि फ्रांस से नौका द्वारा इंग्लिश चैनल पार कर ब्रिटेन जा रहे कुछ शरणार्थियों की एक दिन पहले डूबकर मौत हो गई थी। इनमें 17 पुरुष, 7 महिलाएं और तीन किशोर शामिल थे। इसे दुनिया के सबसे व्यस्त शिपिंग लेन में सबसे खराब त्रासदी बताया गया है।

विरोध प्रदर्शन करेंगे फ्रांसीसी मछुआरे

ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने के ब्रेग्जिट समझौते के के बाद मछली पकड़ने के अधिकारों के विरोध में फ्रांसीसी मछुआरे चैनल की सुरंग और प्रमुख बंदरगाहों को बाधित करने की तैयारी कर रहे हैं। मछुआरों की राष्ट्रीय समिति ने कहा कि वह सुरंग और कैलिस, सेंट-मालो और ऑइस्ट्रेहम के चैनल बंदरगाहों पर विरोध प्रदर्शन करेंगे। बयान के मुताबिक, वे अहिंसक ढंग से विरोध दर्ज कराएंगे। हालांकि इसका प्रभाव इस रास्ते से होने वाले व्यापार पर भी पड़ सकता है।


No comments

राजनीति

//