Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

नौकरी पाने की लालच में फंसा गया संविदा कर्मी:टीचर ने पुलिस विभाग में नौकरी लगवाने का सपना दिखाया, फिर ऐठें 4 लाख; अब गिरफ्तार

  बिलासपुर में जिला अस्पताल के संविदा कर्मचारी को पुलिस में नौकरी लगाने का झांसा देकर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। CAF के कांस्टेबल क...

 


बिलासपुर में जिला अस्पताल के संविदा कर्मचारी को पुलिस में नौकरी लगाने का झांसा देकर धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। CAF के कांस्टेबल के जरिए टीचर ने मिलकर उससे 4 लाख रुपए की ठगी की है। शिकायत पर पुलिस ने ने टीचर के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

कोटा क्षेत्र के ग्राम नेवरा का रहने वाला राकेश कुमार साहू 2017 में जब जिला अस्पताल में संविदा कर्मचारी के पद पर काम कर रहा था। तब 2017 में पुलिस भर्ती के लिए आवेदनपत्र जमा किया था। इस बीच भर्ती प्रक्रिया रुक गई थी। तब 2020-21 में उसकी मुलाकात रामचंद्र बंजारे से हुई। वह CAF में आरक्षक है। उसने राकेश को दुर्ग के पतोरा डुमरडीह में रहने वाले सहायक शिक्षक सुजिश कुमार नारंग से उसका परिचय कराया। इस दौरान सुजिश ने राकेश से कहा मैं तुम्हारी पुलिस विभाग में भर्ती करा दूंगा। इसके एवज में शिक्षक ने 4 लाख रुपए की मांग की। नौकरी मिलने की आस में राकेश ने सुजिश की बातों में भरोसा कर लिया।

फिर उनसे 4 लाख रुपए में सौदा किया। 22 अप्रैल 2021 को जिला अस्पताल के सामने राजीव प्लाजा के पास उसे 4 लाख रुपए दे दिया। लेकिन, जब 2017 में हुए पुलिस भर्ती का परिणाम आया और चयन सूची जारी हुई, तब राकेश का नाम नहीं था। इस पर राकेश ने रामचंद्र बंजारे व सुजिश नारंग से संपर्क किया और रकम वापस करने कहा। इस दौरान उन्होंने रुपए लौटाने का भरोसा दिलाया। लेकिन रुपए वापस नहीं किए। इस बीच वह लगातार उनसे संपर्क करते रहा। फिर परेशान होकर पुलिस से शिकायत कर दी। इस मामले की जांच के बाद पुलिस ने सुजिश के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज करने के साथ ही उसे गिरफ्तार कर लिया है।

बोला-पत्नी है जनपद सदस्य और कांग्रेस नेत्री
जब सुजिश नारंग ने नौकरी लगाने का दावा किया तब राकेश ने पूछताछ की। इस पर सुजिश नारंग ने बताया था कि उसकी पत्नी जनपद सदस्य है और कांग्रेस पार्टी में अच्छी पहुंच है। इस पर राकेश उनकी बातों में आ गया और पुलिस भर्ती में रुपए देने के लिए तैयार हो गया।

दो लाख का दिया चेक भी हो गया बाउंस
राकेश ने पुलिस को बताया कि बार-बार बोलने के बाद उसने पुलिस से शिकायत करने की बात कही। तब सुजिश नारंग ने उसे दो लाख रुपए का चेक दिया। जिसे उसने आहरण के लिए बैंक में जमा किया, तब चेक बाउंस हो गया। इसके बाद वह लगातार गुमराह करने लगा। उसकी हरकतों को देखकर उसने मामले की शिकायत पुलिस से कर दी।

No comments

राजनीति

//