Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

एसईसीएल ने अपना 36 वा स्थापना दिवस मुख्यालय के प्रशासनिक भवन मे आयोजित भव्य समारोह मे मनाया

बिलासपुर। एसईसीएल ने अपना 36 वा स्थापना दिवस गुरूवार 25 नवंबर को  मुख्यालय के प्रशासनिक भवन मे आयोजित भव्य समारोह मे मनाया ।इस स्थापना दिवस ...




बिलासपुर। एसईसीएल ने अपना 36 वा स्थापना दिवस गुरूवार 25 नवंबर को  मुख्यालय के प्रशासनिक भवन मे आयोजित भव्य समारोह मे मनाया ।इस स्थापना दिवस  समारोह मे अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक श्री ए.पी. पण्डा के मुख्य आतिथ्य, निदेशक तकनीकी (संचालन) श्री एम.के. प्रसाद, निदेशक (वित्त) श्री एस.एम. चौधरी, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) श्री ए.के. सक्सेना, विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, विभिन्न श्रमसंघ प्रतिनिधि उपस्थिति  थे । 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि द्वारा ध्वज फहराया गया एवं साथी निदेशकगणों, विभिन्न विभागाध्यक्षों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों के साथ नवनिर्मित शहीद स्मारक का लोकार्पण करते हुए माल्यार्पण किया गया एवं खनिक प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया गया।

शहीद श्रमवीरों के सम्मान में शहीद स्मारक का लोकार्पण

एसईसीएल स्थापना दिवस के अवसर पर एसईसीएल मुख्यालय परिसर में नवनिर्मित शहीद स्मारक का लोकार्पण सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर सीएमडी एसईसीएल श्री ए.पी. पण्डा तथा निदेशक मण्डल एवं विभिन्न श्रमसंघों के प्रतिनिधियों, यूनियन एवं एसोसिएशन/कौंसिल के पदाधिकारियों सहित अधिकारी-कर्मचारियों ने स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित किया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक श्री ए.पी. पण्डा ने उपस्थितों को अपनी व कम्पनी की ओर से बधाई व शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि 36 साल पहले छत्तीसगढ़ में एक पौधा लगाया गया था और सुखद संयोग से पहले साल एसईसीएल का उत्पादन भी 36 मिलियन टन था। आज इसी पोधे ने एक विशाल वट वृक्ष का आकार ले लिया है जिसकी छत्रछाया में हम-आप, हमारे परिजन, हमारे विभिन्न स्टेक होल्डर गर्व से तथा प्रगति का संकल्प लिए खड़े हैं।

उन्होने कहा कि एईसीएल पिछले 3 साल से 150 मिलियन टन कोयला उत्पादन का आँकड़ा छू रहा है तथा देश के विकास में ऊर्जा आपूर्ति कर अपना सहयोग दे रहा है। उन्होंने कहा कि एसईसीएल के विकास के इस सफर में जो भी कोई इस कम्पनी को इस मुकाम पर पहुँचाया है हम उन सभी के प्रति आभार और धन्यवाद प्रकट करते हैं। हम सबकी जिम्मेदारी है कि भविष्य में भी एसईसीएल को इसी तरह से प्रगति एवं उन्नति की राह पर स्थापित रखें।

No comments

राजनीति

//