Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

माविस अल्वारेज का सनसनीखेज खुलासा, कहा- 16 साल की उम्र में माराडोना ने रेप करके छीना बचपन

नई दिल्ली अर्जेंटीना के दिवंगत फुटबॉलर डिएगो माराडोना पर रेप का आरोप लगा है। फुटबॉल के सबसे महान खिलाड़ियों में शामिल माराडोना पर यह आरोप क्...



नई दिल्ली

अर्जेंटीना के दिवंगत फुटबॉलर डिएगो माराडोना पर रेप का आरोप लगा है। फुटबॉल के सबसे महान खिलाड़ियों में शामिल माराडोना पर यह आरोप क्यूबा की एक महिला माविस अल्वारेज ने लगाया है। माविस अब अमेरिका के मियामी में रहती हैं। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि माराडोना ने उनके साथ बलात्कार करके उनका बचपन लिया। अल्वारेज के इस सनसनीखेज खुलासे के बाद ज्यादातर लोगों ने हैरानी जताई है। बीते वर्ष 60 साल की उम्र में हृदयघात के चलते माराडोना का निधन हो गया था। 

16 साल की उम्र में किया था बलात्कार

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान क्यूबा की महिला ने कहा कि यह मामला 2001 का है। जब माराडोना ने मेरा बलात्कार किया उस समय मैं 16 साल की थी और वह 40 वर्ष के थे, माराडोना से मेरी मुलाकात क्यूबा में उस वक्त हुई थी जब वह नशीली दवाओं की लत के चलते अपना इलाज करा रहे थे। अल्वारेज के मुताबिक, उन्होंने मुझे बहला लिया, लेकिन दो महीने के बाद बदल गया। उन्होंने मेरा रेप हवाना के एक क्लीनिक में रेप किया था जहां वह रह रहे थे, उस समय मेरी मां बगल के कमरे में थीं। महिला ने आगे कहा कि उन्होंने मेरा मुंह दबा लिया, उसने मेरा बलात्कार किया, मैं इसके बारे में ज्यादा कुछ कहना नहीं चाहती उन्होंने मेरा बचपन छीन लिया, उस घटना को बयां करना बहुत मुश्किल है। मैं उससे प्यार करती हूं, घृणा भी करती हूं, कभी-कभी मैं आत्महत्या के बारे में सोचती हूं। 

फिदेल कास्त्रो-माराडोना की दोस्ती मुझ पर पड़ी भारी

अल्वारेज के मुताबिक, उनके परिवार ने उन्हें उम्र में काफी बड़े माराडोना के साथ संबंध रखने की अनुमति दी जिसकी वजह तत्कालीन राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो थे। क्योंकि माराडोना की कास्त्रो के साथ गहरी दोस्ती थी, जिसके चलते मेरे परिवार को यह गलत निर्णय लेना पड़ा। अल्वारेज ने आगे कहा मैं और मेरी फैमिली ने इस कभी स्वीकार नहीं किया होता अगर इसमें क्यूबा सरकार शामिल न होती, उन्हें इस तरह के रिश्ते को अपनाने के लिए मजबूर किया गया जो उनके या किसी के लिए भी अच्छा नहीं था। 


No comments

राजनीति

//