Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हमारे बारे में

//

राजनांदगांव में कोरोना से पहली मौत, अनाज दुकान में काम करने वाले 40 वर्षीय युवक की हुई मौत

राजनांदगांव:  बुखार और निमोनिया के इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत के दो दिन बाद उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इ...


राजनांदगांव: बुखार और निमोनिया के इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत के दो दिन बाद उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसे जिले में कोरोना से पहली मौत माना जा रहा है। इस रिपोर्ट के बाद युवक के मोहल्ले लखोली सेठीनगर को सील करने की कार्रवाई की जा रही है।

राजनांदगांव के सेठीनगर निवासी करीब 40 वर्षीय युवक को निमोनिया और बुखार की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। यहां 15 जून को उसकी मौत हो गई थी। मौत के बाद उसे कोरोना संदिग्ध मानते हुए अस्पताल प्रबंधन ने परिजनों को शव नहीं सौंपा था और मृतक का सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया था। बुधवार को रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद यहां हड़कंप मच गया है।

अनाज दुकान में करता था काम

जानकारी के अनुसार युवक गंज लाइन में एक अनाज दुकान में काम करता था। उसकी पहले की कोई हिस्ट्री नहीं थी। अचानक सांस लेने में तकलीफ, बुखार और निमोनिया की शिकायत होने पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती किया गया था। यहां उसका उपचार भी शुरु हो गया था और इस दौरान उसकी मौत हो गई।

इलाका सील, परिजनों का होगा टेस्ट

अस्पताल में मृत युवक की रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद उसके निवास और इसके आसपास के इलाके को सील कर दिया गया है। अब स्वास्थ्य महकमा मृत कोरोना पाजिटिव के सभी परिजनों और उसके संपर्क में आने वाले लोगों का सैंपल लिया जा रहा है।

अंतिम संस्कार का यह होगा प्रोटोकाल

सीएमएचओ डॉ. मिथलेश चौधरी ने बताया कि कोरोना पाजिटिव मृतक के अंतिम संस्कार के लिए तय किए गए प्रोटोकाल के तहत अब प्रक्रिया अपनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि शव को बाडी बैग में पैक किया जाएगा और इसके बाद अंतिम संस्कार का रस्म प्रशासन द्वारा प्रशिक्षित टीम द्वारा किया जाएगा।

No comments

राजनीति

//